• कविगण अपनी रचना के साथ अपना डाक पता और संक्षिप्त परिचय भी जरूर से भेजने की कृपा करें।
  • आप हमें डाक से भी अपनी रचना भेज सकतें हैं। हमारा डाक पता निम्न है।

  • Kavi Manch C/o. Shambhu Choudhary, FD-453/2, SaltLake City, Kolkata-700106

    Email: ehindisahitya@gmail.com


ग़ज़ल - आचार्य भगवत दूबे


क्यों पतली दाल न पूछो



मंहगाई का हाल न पूछो
क्यों है पतली दाल न पूछो

रुला रहे हैं बिजली-पानी
सड़क बनी घुड़साल, न पुछो

योजनाएँ तो हैं अरबों की
पर है कछुआ चाल न पूछो

जबसे बेटा बना दरोगा
खींच रहा है माल न पूछो

मंत्री से उनकी यारी है
खिचवा देगा खाल न पूछो

डाकू-थानेदार आजकल
मिला रहे सुर-ताल न पूछो

भ्रष्टाचार चरम सीमा पर
पुजा हुई कंगाल न पूछो



कवि का पता:
आचार्य भगवत दूबे
पता: पिसनहारी-मढ़िया के पास, जबलपुर(म.प्र.)
साभार: पनघट


क्रमांक सूची में वापस जाएं

1 comment:

Popular India said...

बहुत अच्छा

धन्यवाद.

http://popularindia.blogspot.com>